Midbrain Activation Advance

Our midbrain activation advance Including – Telepathy basic, QSR advance, Study Technique, And Brain programing

क्या है मिडब्रेन एक्टिवेशन

हमारे मस्तिष्क के दो भाग होते है, लेफ्ट ब्रेन और राईट ब्रेन । और इन दोनों भागो को जोड़ने वाले हिस्से को कहा जाता है इन्टर ब्रेन या मिड ब्रेन। अधिकतर हम सभी लेफ्ट ब्रेन का उपयोग करते है जबकि राईट ब्रेन बहुत कम उपयोग में आ पाता है। बहुमुखी प्रतिभा का धनी व्यक्ति भी जिंदगी में अपने मस्तिष्क का छोटा सा अंश ही उपयोग करता है, वह भी सिर्फ लेफ्ट ब्रेन का – जोकि तार्किक क्षमता वाला है। सृजन शक्ति से सम्पन्न राईट ब्रेन का उपयोग न के बराबर हो पाता है।
तो मस्तिष्क के दोनों भागो के बीच का सेतु यानि मिड ब्रेन यदि एक्टिव हो जाये तो बच्चा ऑलराउंडर बन जाता है, उसके आई. क्यू. दोनों एक साथ बढ़ते है। लेफ्ट ब्रेन स्कूली पढ़ाई, लॉजिकल सोच और याद करने के लिए काफी आवश्यक है। लेकिन राईट ब्रेन आविष्कारक सूझबूझ और सृजनात्मकता के लिए अनिवार्य है।
कैसे होता है

ध्यान और विज्ञान के संयोग से से बच्चो के मिडब्रेन को एक्टिव किया जाता है] ब्रेन एक्टिव होने से मैमोरी] कंसेंट्रेशन] विजुलाईजेशन] इमेजिनेशन] क्रिएटिविटी और जल्दी पढ़ने की कला जाग्रत हो जाती है जिससे सभी इन्द्रियाँ एक साथ ऑब्जेक्ट को महसूस कर मस्तिष्क को सूचना देने लगती है

यह पूरी प्रक्रिया वैज्ञानिक प्रणाली पर आधारित है। बच्चो को शांत और विश्रामपूर्ण स्थिति में ले जाकर उन्हें अलग अलग स्टेप जैसे – ब्रेन जिम, डांस, पजल्स, गेम्स, सिंगिंग, योग व् ध्यान क्रियाएं सिखाई जाती है। शरीर के बाएं व् दाएं दोनों तरफ के अंगो से बराबरी से उपयोग करने की प्रैक्टिस करवाई जाती है।

कितना समय लगता है

यह वैसे तो 2 दिन की वर्कशॉप में हो जाता है। पहले और दूसरे दिन 6-6 घंटो का अभ्यास कराया जाता है। इसके बाद हर हफ्ते 2 घंटों का फॉलोअप कराया जाता है।

                                    करीब 2 महीने के अभ्यास में बच्चो की इन्द्रियाँ संवेदनशील होने लगती है और लगभग 3 से 4 महीने में पूरी तरह से एक्टिवेशन हो जाता है। बच्चो को घर पर भी कुछ अभ्यास करने होते है। और फिर 10 से 15 मिनट रोज प्रयोग करते रहने से जिंदगी भर इसका लाभ लिया जा सकता है।

मिड ब्रेन एक्टिवेशन के फायदे
इसके एक्टिवेशन से बच्चो में एकाग्रता की जबरदस्त बढ़ोतरी होती है। जिससे बच्चे आँखे बन्द करके किसी भी वस्तु को छूकर या सूंघकर उसके बारे में सटीक बता देते है] जैसे कि उसे खुली आँखों से देख रहे हो। इस कोर्स को करने के बाद बच्चो की जीवनशैली ही बदल जाती है। यह कोर्स आधुनिक पध्दति पर आधारित है इसका किसी भी तरह का कोई साइड इफैक्ट नही है। इस कोर्स के कई अन्य लाभ है & आई- क्यू- काफी तेजी से बढ़ना] ग्रहण शक्ति में वृद्धि] आत्म विश्वास बढ़ना] क्रिएटिविटी का विकास] गुस्से पर नियंत्रण] स्मरण शक्ति का विकास] विश्लेषण क्षमता तथा निर्णय लेने की क्षमता का विकास एवम और भी बहुत कुछ। यह तकनीक आज बच्चो के लिए एक वरदान बन चुकी है इसकी जानकारी जरूर प्राप्त करें।
मिड ब्रेन एक्टिवेशन फीस

मिड ब्रेन एक्टिवेशन देखने में थोड़ा सा कॉस्टली जरूर लगता है मगर इसकी फीस इसके फायदों के सामने कुछ भी नहीं है।
                            इसकी फीस अलग अलग जगहों के हिसाब से 12,000 रु. से लेकर 30,000 रु. तक है।

मगर जरा सोचिये
जब मिड ब्रेन एक्टिवेशन के बाद जब आपके बच्चे का कॉन्सेंट्रेशन] मैमोरी एवं आत्मविश्वास बढ़ जाता है और उसको थोड़े समय में ही सबकुछ याद होने लगता है। जिसकी वजह से उसकी ट्यूशन या एक्स्ट्रा क्लासेज की जरूरत खत्म हो जाती है तो आप कितने पैसे हर महीने बचा सकते है।
और सबसे बड़ी बात & आज के समय में किसी बच्चे के फ्यूचर के लिए इससे भी बड़ी और जरुरी कोई और चीज हो सकती है मुझे नहीं लगता।